X Close
X

हरिद्वार में होने वाले आगामी महाकुंभ के लिए हर सम्भव मदद की जायेगी-केन्द्रीय मंत्री


Moradabad:

देहरादून-मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत से गुरूवार को देर सांय केन्द्रीय पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान ने मुख्यमंत्री आवास में मुलाकात की। इस अवसर पर मुख्यमंत्री द्वारा केन्द्रीय मंत्री से राज्य में पी.एन.जी एवं सी.एन.जी. के विस्तार व राज्य के प्रमुख पर्यटक स्थलों, चारधाम यात्रा मार्गों के संबंध में वार्ता की गई।
केन्द्रीय मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान ने कहा कि उत्तराखण्ड के चारों धामों बद्रीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री व यमुनोत्री में अवस्थापना सुविधाओं के लिए हर सम्भव मदद की जायेगी। उन्होने कहा कि गंगोत्री, यमुनोत्री में नागरिक व अस्थापना सुविधाओं के कार्य गैस अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड (गेल) द्वारा किया जायेगा। केदारनाथ में ओ.एन.जी.सी. के माध्यम से अवस्थापना विकास के विभिन्न कार्य किये जायेंगे। इस अवसर पर केन्द्रीय मंत्री ने अधिकारियों से पी.एन.जी व सी.एन.जी. की कार्य प्रगति की जानकारी भी ली। उन्होंने कहा कि इन कार्यों में तेजी लाने के लिए राज्य सरकार के संबंधित अधिकारियों व गेल के अधिकारी आपसी समन्वय के साथ कार्य करें।
केन्दीय मंत्री ने कहा कि हरिद्वार में होने वाले आगामी महाकुंभ के लिए हर सम्भव मदद की जायेगी। उन्होंने कहा कि कुंभ के दौरान हरिद्वार, ऋषिकेश व देहरादून में सी.एन.जी. युक्त वाहन चले इसके 20-25 सी.एन.जी. स्टेशन बनाये जाय। यह ग्रीन कुंभ के आयोजन के लिए अच्छी पहल होगी। उन्होंने कहा कि चारधाम यात्रा मार्गों व प्रमुख पर्यटक स्थलों पर कुछ ऐसे स्थान चिन्हित किये जाय, जहॉ पर मोबाइल, डीजल, डिस्पेन्सर की सुविधा हो सके।
मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कहा कि आगामी कुंभ के दृष्टिगत हरिद्वार के लिए मास्टर प्लान बनाया जा रहा है। हरिद्वार श्रद्धालुओं के लिए आकर्षण का केन्द्र रहा है। 2021 में हरिद्वार में भव्य कुंभ का आयोजन किया जायेगा। उन्होंने कहा कि हरिद्वार में सती घाट को डेवलप करना जरूरी है। पी.एन.जी. का हल्द्वानी में भी विस्तार करना जरूरी है। इस पर केन्द्रीय मंत्री ने सहमति जतायी।
इस अवसर पर अपर मुख्य सचिव ओम प्रकाश, सचिव अमित नेगी एवं सुशील कुमार उपस्थित थे।

Hukoomat Reporter