X Close
X

पेयजल आपूर्ति को लेकर महत्वपूर्ण बैठक-जिलाधिकारी


Moradabad:हल्द्वानी 04 मई 2019 (सूचना)-  हल्द्वानी शहर मंे पेयजल की दिक्कत को देखते हुये जिलाधिकारी श्री विनोद कुमार सुमन ने जलसंस्थान, नलकूप, जल निगम विद्युत महकमे के आला अधिकारियों के साथ कैम्प कार्यालय में पेयजल आपूर्ति को लेकर महत्वपूर्ण बैठक ली। जिलाधिकारी श्री सुमन ने आदेश दिये है कि 30 जून तक नये भवन निर्माण, नये जल संयोजन एवं गाडियों की धुलाई आदि पर तुरन्त रोक लगा दी है। उन्होने कहा जब समस्या बार- बार आती है उस समस्या को देखना अधिकारियों का कर्तव्य है और उस समस्या का समाधान होना नितांत आवश्यक है, फिर भी समस्या का हल नही निकलता है तो सम्बन्धित अधिकारी के खिलाफ दण्डात्मक एवं कठोर कार्यवाही की जायेगी। उन्होने कहा विद्युत, जलसंस्थान, एवं जल निगम आपसी समन्वय से कार्य करें , एक दूसरे विभाग को दोष देना उचित नही है। उन्होने कहा हल्द्वानी में जहां- जहां पेयजल की किल्लत है वहां की पेयजल की समस्या का समाधान तीन दिन के भीतर हल नही हो पाती है तो सम्बन्धित अधिकारियों के खिलाफ कठोर कार्यवाही की जायेगी। उन्होने जल संस्थान के अधिकारियों से कहा पेयजल आपूर्ति तथा वितरण व्यवस्था का समय-समय पर निरीक्षण करें तथा आम जनता से  मिले एवं उनकी समस्याओ का मौके पर ही निदान करें। श्री सुमन ने नलकूप विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया कि उनके वर्कशाप मे जो पेयजल की मोटर रिपेयरिंग के लिए आती है उसकी रिपेयरिंग 72 घंटों के भीतर होनी चाहिए। उन्होने कहा प्राथमिकता रिपयेरिंग हेतु पेयजल की मोटर को दी जाए उसके उपरान्त सिचाई की मोटर को। उन्होने कहा मोटर रिपेयरिंग में उच्च गुणवत्ता युक्त सामग्री लगाई जाए जिससे वह लम्बे समय तक कार्य कर सके।  उन्होने नलकूप विभाग को मोटर एवं स्टेप्लाइजर क्रय करने के लिए डिमांड देने के निर्देश दिये। उन्होने विद्युत विभाग को निर्देश दिये कि विद्युत की कटौती जलसंस्थान से समन्वय कर की जाए जिसे पेयजल आपूर्ति बाधित ना होने पाये। उन्होने अधिशासी अभियन्ता जलसंस्थान को निर्देश दिये कि जो पेयजल आपूर्ति आम जनता के लिए प्राइवेट टैंकरों द्वारा की जाती है उनका रेट का निर्धारण होना चाहिए, प्राइवेट टैंकर मनमाने तरीके से वसूली ना कर पायें इसके लिए प्राइवेट टैंकरोें के साथ समन्वय कर कम से कम रेट का निर्धारण करें जिससे आम जनता पर आर्थिक बोझ ना पडे। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी विनीत कुमार,अधीक्षण अभियन्ता ए.एस अंसारी, अधिशासी अभियन्ता जल संस्थान विशाल सक्सेना,नलकूप डीसी सनवाल,विद्युत अमित आन्नद, नलकूप जीएस टोलिया, एई सीएस देवडी,एलएम पाण्डे, नीरज तिवारी के अलावा सम्बन्धित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।
Hukoomat Reporter