X Close
X

नशा समाज के लिए बहुत घातक है, इसे जड से मिटाना हम सबका कर्तव्य है-जिलाधिकारी


Moradabad:

रूद्रपुर- जिला प्रशासन व पुलिस प्रशासन की पहल पर जनपद मे मिशन खुशियां के द्वितीय चरण मे नशा मुक्ति अभियान चलाने हेतु जिलाधिकारी डा0 नीरज खैरवाल द्वारा लगातार बैठके की जा रही है। इसी क्रम मे जिलाधिकारी द्वारा आज मेडिकल स्टोर स्वामी, कैमिस्टो और फार्मासिस्टो की एक बैठक ली गई। जिलाधिकारी ने कहा नशा समाज के लिए बहुत घातक है, इसे जड से मिटाना हम सबका कर्तव्य है। उन्होने मेडिकल स्टोर स्वामियो से कहा यदि आप लोग ठान ले कि ड्रग्स किसी भी मेडिकल स्टोर से नही बेची जायेगी तो जनपद मे नशे पर पूर्ण अंकुश लग सकता है। उन्होने कहा मेडिकल स्टोर स्वामी चोरी-छिपे जो नशे का कारोबार कर रहे है, उनका नाम बताये ताकि नशे के कारोबारियो के खिलाफ सख्त कार्यवाही अमल मे लाई जायेगी। इस कार्य मे जिला प्रशासन आपका पूरा सहयोग करेंगा। उन्होने कहा थोडे से पैसे के लालच मे आकर यह कार्य न करे जिससे युवा वर्ग नशे के दलदल मे फसे। उन्होने कहा सभी मेडिकल स्टोर स्वामी काउन्टर पर अवश्य रूप से सीसीटीवी कैमरा अवश्य लगाये। डाक्टर की लिखित पर्ची के अनुसार ड्रग्सयुक्त मेडिसन दी जाती है उनके नाम रजिस्टर मे दर्ज करे साथ ही यह भी लिखे कि उसे कितने दिन हेतु यह दवा उपलब्ध कराई गई है। उन्होने कहा जो मेडिकल स्टोर स्वामी इस तरह का रजिस्टर नही बनायेगे उनका लाइसेंस निरस्त करने की कार्यवाही अमल मे लाई जायेगी। उन्होने कहा यदि कही पर आॅनलाइन ड्रग्स की सप्लाई होती है मेडिकल स्टोर स्वामी उसकी भी जानकारी उपलब्ध कराये ताकि सम्बन्धित के खिलाफ भी कानूनी कार्यवाही अमल मे लाई जा सके। जिलाधिकारी ने कहा जनपद स्तर मे एण्टीड्रग्स कमेटी का गठन किया गया है, जो समय-समय पर मेडिकल स्टोरो की चैकिंग करेंगे। उन्होने कहा जो मेडिकल स्टोर स्वामी बिना लाइसेंस के ड्रग्स बेच रहे है उनके खिलाफ भी कार्यवाही की जायेगी। उन्होने कहा सूचनाओ के आदान-प्रदान हेतु मेडिकल स्टोर स्वामियो, फार्मासिस्टो व कैमिस्टो के साथ जिला प्रशासन का व्हाट्सएप ग्रुप बनाया जायेगा। उन्होने कहा बच्चो के भविष्य से खिलावाड न करे बच्चो का भविष्य बनाना हम सबकी जिम्मेदारी है।
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक बरिंदरजीत सिंह ने कहा आप सभी लोग जिला प्रशासन व पुलिस प्रशासन के सहयोग से कार्य करे ताकि किसी भी मेडिकल स्टोर पर ड्रग्स उपलब्ध न हो। उन्होने कहा डाक्टर की राय के अनुसार जो नशे से सम्बन्धित दवाईयां लगातार ले जाते है, उन्हे चिन्हित करे यदि वे नशे के आदि है तो उनका ईलाज भी कराया जायेगा। उन्होने कहा युवाओ को नशे की लत से रोकने के लिए समाज के सभी वर्गो को सामूहिक जिम्मेदारी निभानी होगी।
बैठक मे अपर जिलाधिकारी जगदीश चन्द्र काण्डपाल सहित मेडिकल स्टोर स्वामी, कैमिस्ट और फार्मासिस्ट उपस्थित थे।

Hukoomat Reporter