X Close
X

त्याग व परोपकार की भावना का होना आवश्यक है-राज्यपाल


Moradabad:देहरादून-राज्यपाल श्रीमती बेबी रानी मौर्य ने रविवार को नगर निगम टाउन हाॅल देहरादून में आयोजित सेवा भारती देहरादून के वार्षिकोत्सव ‘उमंग 2019’ में बतौर मुख्य अतिथि प्रतिभाग किया। कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए राज्यपाल श्रीमती बेबी रानी मौर्य ने कहा कि लोगो में सेवा भाव के साथ ही संवेदना भी होनी आवश्यक हैं। उन्होंने कहा कि किसी भी समाज के एक हिस्से के पिछड़ा या अभावग्रस्त होने से सम्पूर्ण समाज की खुशहाली मंे अवरोध उत्पन्न होता है। कोई भी समाज तब ही खुशहाल रह सकता है जब उसका प्रत्येक व्यक्ति खुशहाल हो। समाज के सशक्त व जागरूक वर्ग को दुर्बल वर्ग की प्रगति के लिए आगे आना होगा। इसके लिए त्याग व परोपकार की भावना का होना आवश्यक है। राज्यपाल ने कहा कि निर्धन बच्चों को शिक्षा प्रदान करना वास्तव में धरातल स्तर पर समाज का सशक्तिकरण है। हमें विशेषकर बालिकाओं को शिक्षा के माध्यम से सशक्त करने की आवश्यकता है। महिलाओं के आर्थिक सशक्तिकरण की आवश्यकता हैं। उन्होंने कहा कि प्राकृतिक सौन्दर्य से भरपूर देवभूमि उत्तराखण्ड में रहना सौभाग्य की बात है। यहां की परिश्रमी व साहसी महिलाएँ हमारी प्रेरणा की स्रोत हैं।      इस अवसर पर उद्योगपति व समाजसेवी श्री अशोक विंडलास, श्री हरिमोहन लोहिया, श्री सुनील जैन, श्रीमती डाॅली डबराल तथा युवा व बच्चें उपस्थित थे।
Hukoomat Reporter